Rcm Honey - Rcm suger, chinni, benefits, bv, dp, price

Rcm premium swechha honey क्या है? Rcm Suger, Rcm Chinni क्या है? Rcm Honey Benefits क्या है? Rcm Honey का Price, DP, BV, MRP आदि क्या है?

Rcm Honey - Rcm suger, chinni, benefits, bv, dp, price
: :

Rcm Honey इसे Rcm swechha primium Honey के नाम से भी जाना जाता है।साथ में हम जानेंगे Rcm Honey benefits के बारे में भी।बाज़ार में आपको कई ब्रांड के शहद मिल जाएंगे लेकिन यह आपको तय करना है कि कौन सा शहद आपकी उम्मीदों पर खरा उतरता है।

शहद का इस्तेमाल कई युगों से चला आ रहा है। आयुर्वेद मे शहद का उल्लेख किया गया है। पहले समय में इसे एक औषधि के रूप में ग्रहण किया जाता रहा है,क्योंकि शहद कई बीमारियों के असर को खत्म करने में सक्षम है।इसलिए Rcm  भी अपने ग्राहकों कि जरूरतों का ध्यान रखते हुए लाया है

 यह Rcm Honey जिसके इस्तेमाल से आप कई बीमारियों से बचे रहेंगे और एक सुखी जीवन व्यतीत करेंगे क्योंकि स्वास्थ शरीर सुखी जीवन का मूलभूत आधार है।आप जानते ही होंगे कि शहद किस प्रकार तैयार होता है अगर आप नहीं जानते तो घबराने कोई आवश्यकता नहीं है हम आपको इसके बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे।

How Rcm Honey is made ?

यह पूरी प्रक्रिया प्राकृतिक है बस इसकी पैकिंग को छोड़ कर आपकी जानकारी के लिए बता दे की इसे मधुमक्खी पालन से बनाए जाता है। आइए इसके बारे में और विस्तार से जानें:-

  1. मधुमक्खियों के लिए शहद बनाने कि प्रक्रिया बहुत ही जटिल होती है। कोई एक मधुमक्खी शहद तैयार नहीं कर सकती ।
  2. वे टीम बन कर है शहद तैयार कर सकती है। सबसे पहले मधुमक्खी अलग अलग फूलो पर जाकर उनका रस निकलती है।
  3. फिर वह उस रस को अपने पेट में रखती है जो खासतौर पर उस रस को रखने के लिए होता है।
  4. इसके बाद वह मधुमक्खी उस रस को दूसरी मधुमक्खी को देती है चबाने के लिए दूसरी मधुमक्खी उस रस को लगभग 30 मिनट के लिए चबाती है।
  5. चबाने से उस रस में एंजाइमटिक क्रिया होने के करें वह रस शहद का रूप ले लेता है। यह शहद ओर पानी का एक मिश्रण होता है।
  6. अब मधुमक्खी उस शहद को छत में रख देती है और मोम से उस छेद को बंद कर देती है ताकि शहद सुरक्षित रहे।
  7. हम सभी इसी प्रक्रिया से तैयार शहद का सेवन करते हैं। अब Rcm कर्मचारियों के द्वारा इस शहद को इकट्ठा किया जाता है।
  8. अब उसे फैक्ट्री में रिफाइन किया जाता है और पैक कर के आप तक पहुंचा दिया जाता है।

यह थी पूरी प्रक्रिया Rcm swechha primium Honey के तैयार होने कि अब हम बात करेंगे इस Rcm Honey में मौजूद पोषक तत्वों कि आइए जानते हैं:-

Nutrients present in Rcm Honey

Rcm Honey कि बात करें तो इसमें प्राकृतिक तरीके से तैयार शहद कि पूरी गुणवत्ता उपस्थित है। शहद मुख्य रूप से पानी ओर शुगर क मिश्रण होता है साथ में इसमें कई प्रकार के माइक्रोन्यूट्रींस होते हैं।

इसमें कोई भी पोषक तत्त्वों से छेड़खानी नहीं कि गई है आपको इसमें इस शहद के एक एक पोषक तत्त्व का लाभ मिलेगा। आइए अब एक नजर Rcm swechha primium Honey में मौजूद पोषक तत्वों पर डालते हैं।

  • फ्रक्टोस शुगर:- यह मुख्य तौर पर फलों मे पाया जाता है। यह एक प्राकृतिक शुगर है। यह इंसुलिन में भी पाया जाता है जो कि मधुमेह के रोगियों के लिए रामबाण है।
  • विटामिन:- इसमें विटामिन्स भी बहरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।
    • विटामिन B1 - less than 10 mcg
    • विटामिन B2 - less than 20 mcg
    • विटामिन B3 - less than 20 mcg
    • विटामिन B5 - less than 110 mcg
    • विटामिन B6 - less than 320 mcg
    • विटामिन B9 - less than 10 mcg
    • विटामिन C - less than 2500 mcg
    • विटामिन K -25 mcg
  • प्रोटीन:- शहद में एमिनो एसिड्स भी पाए जाते है को प्रोटीन क निर्माण करते है।
  • एंटीबायोटिक ओर एंटीऑक्सिडेंट्स:- यह भी शहद मे खूब पाए जाते हैं जिस से शरीर में उत्पन्न होने वाली कोई भी बीमारी को यह खत्म करते हैं और शरीर से हानिकारक तत्त्वों को बाहर निकलते हैं।
  • मिनरल्स:- शहद में ज़िंक,आयरन, मैग्नीशियम, मैंगनीज़, फास्फोरस, पोटैशियम, कैल्शियम आदि मिनरल्स पाए जाते है।

तो यह थे कुछ पोषक तत्त्व जो इस Rcm Honey में पाए जाते हैं। अब हम बात करेंगे Rcm Honey benefits कि जानेंगे की आखिर इस Rcm swechha primium Honey के क्या क्या फ़ायदे हैं आइए:-

Rcm Honey Benefits

शहद के फायदों को देखते हुए ही आयुर्वेद में इसे अमृत समान माना गया है। छोटे बच्चों से लेकर बूढों तक शहद सभी के लिए फायदेमंद है। नियमित रुप से शहद खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जिससे कई तरह की बीमारियों से बचाव होता है। आइये शहद के प्रमुख फायदों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

वैसे तो शहद खाने के अनेकों फायदे है लेकिन आज हम आपको इसके कुछ महत्त्वपूर्ण फायदों से अवगत करवाएंगे आइए:-

ब्लड प्रेशर नियंत्रित करे: Rcm Honey को अगर आप 1 चमच्च खाने में या गर्म पानी में इसे मिलाकर इसका सेवन करेंगे तो आपके ब्लड प्रेशर में सुधार आएगा।

रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है : एंटीऑक्सिडेंट्स ओर एंटी बैक्टरिला गुण होने से यह शरीर कि रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। इसमें विटामिन C भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कि बीमारियों से लड़ने मे सहायता करता है।

एंटी एजिंग : Rcm swechha primium Honey के सेवन से यह आपकी त्वचा को हमेशा जवां रखेगा यह मुंह पर आने वाले झुर्रियों ओर रिंकल्स कि समस्या को खत्म कर देता है। जिस से आप सदा जवां और स्वास्थ दिखते हैं।

वज़न घटाने में मदद : शहद शरीर में अतिरिक्त फैट को कम करने भी मदद करता है यह शरीर कि मेटाबॉलिज़म शक्ति को बढ़ाता है जिस से शरीर कि वसा धीरे धीरे खतम होने लगती है और शरीर एक दम फैट फ्री हो जाता है।

बेहतर नींद : शहद में सेरोटोनिन नामक केमिकल मौजूद होता है जो कि किसी के भी व्याहार को बदल देता है। इसलिए अगर आप अच्छी नींद लेना चाहते हैं तो आप सोने से पहले दूध या गुनगुने पाने में शहद मिलाकर पिएं आपको अच्छी नींद आएगी।

खांसी से राहत : शहद में एंटीबैक्टीरियल गुण होने के करें यह गले में इन्फेक्शन पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म कर देता है जिस से खांसी मे आराम मिलता है।

नैचुरल मॉइश्चराइजर: शहद एक प्राकृतिक मॉइश्चराइजर है अगर आप शहद को एलोवेरा के साथ मिक्स कर के चेहरे या पूरे शरीर पर लगाते हैं तो यह त्वचा में नमी को बरकरार रखता है जिस से आपकी त्वचा खिलखिलाने लगती है।

बालों के लिए : शहद बालों से जुड़ी कई समस्याओं का समाधान करता है जैसे डेंड्रफ आदि। अगर आप शहद को बालों कि जड़ों में लगाते हैं तो आपको डेंड्रफ से निजात मिल जाएगा।

शरीर में ऊर्जा का निर्वहन: शहद में इस्तेमाल से आपके शरीर में हमेशा ऊर्जा बनी रहेगी क्योंकि इसमें ग्लूकोज उचित मात्रा में होती है जो सीधे खून मे घुल कर शरीर को ऊर्जा प्रदान करती है।

कैंसर से बचाव : शहद पेट में होने वाले कैंसर को रोकता है। शहद में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स से शरीर में ट्यूमर बन ने से भी रोका जा सकता है।

यह थे कुछ महत्त्वपूर्ण Rcm Honey benefits अब हम बात करेंगे कि आप किस प्रकार इस Rcm swechha primium Honey को इस्तेमाल कर सकते हैं साथ में हम आपको इसकी विधि भी बताएंगे।

Rcm Honey Uses

शहद के बारे में ज्यादातर लोगों को पता होता है लेकिन शहद खाने के तरीके को लेकर लोग पीछे रहते हैं। आप शहद को सीधे भी कहा सकते है या इसे दूध या पानी में इसे मिलाकर सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा खाली पेट हल्के गुनगुने पानी के साथ शहद का सेवन वजन कम करने में बहुत उपयोगी माना जाता है। कुछ लोग हल्के गुनगुने पानी और शहद के मिश्रण में नींबू मिलाकर भी सेवन करते हैं।

खांसी से आराम के लिए :अगर आपको खांसी कि समस्या है तो आपको शहद का इस्तेमाल करना चाहिए। शहद में मौजूद एंटी बैक्टरिल गुण खांसी को खत्म करने में सक्षम है।

सेवन विधि : खांसी से आराम पाने के लिए आप दो तरीकों से शहद का सेवन कर सकते हैं।

पहला तरीका :  रात में सोने से पहले हल्के गुनगुने पानी में एक चम्मच Rcm Honey मिलाकर उसका सेवन करें। यह बलगम को पतला करने के साथ साथ खांसी से जल्दी आराम दिलाता है।

दूसरा तरीका : अदरक और शहद से तैयार पेय भी खांसी से आराम दिलाने में कारगर है।

कटने या जलने से समाधान : त्वचा के कटने या जल जाने पर भी शहद का उपयोग करना बहुत गुणकारी है। शहद में मौजूद एंटीसेप्टिक गुण जले हुए हिस्से को जल्दी ठीक करते हैं त्वचा को संक्रमण से भी बचाते हैं।

विधि : अगर आपकी त्वचा कट गयी है या कोई हिस्सा जल गया है तो उस हिस्से पर शहद लगाएं। यह जलन को कम करती है।

वज़न कम करने में सहायक : अगर आप अपना वजन कम करना चाहता है तो आपको Rcm swechha primium Honey का इस्तेमाल करना करना चाहिए क्योंकि इसमें मौजूद एंटी आक्सिडेंट शरीर से हानि कारक तत्त्वों को निकलता है ओर शरीर से वसा को कम करता है।

विधि: Rcm Honey को शुबह खाली पेट गुनगुने पानी में मिलाकर इसका सेवन करें।

यह थे कुछ Rcm Honey के कुछ उपयोग अब हम शहद से जुड़ी कुछ ध्यान दें योग्य बातों पर नजर डालेंगे आइए:-

Rcm Suger Important Fact

अगर आप शहद का इस्तेमाल करते हैं तो आपको कुछ विशेष चीजे का ध्यान रखना चाहिए क्योंकि ज्यादातर लोगों को इसके बारे में जानकारी नहीं हैं तो आइए आज इसके बारे में जानकारी इकट्ठा करते हैं:

  1. शहद का कभी भी उबलते पानी में डालकर उपयोग में नहीं लान चाहिए इसे गुनगुने पानी या सामान्य तापमान के पानी में डाल कर है सेवन करना चाहिए।
  2.  शहद को घी और दही के साथ ज्यादा देर रखने के बाद सेवन करने से शरीर पर हानिकारक प्रभाव होते हैं।
  3. शहद अधिक देर तक गरम नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें मौजूद पोषक तत्त्व एक तापमान पर आकार विषेला प्रभाव उत्पन्न काने लग जाते है।
  4. अति संवेदनशील तव्चा वाले लोगो को भी शहद से बचना चाहिए । इन्हे शहद को अपने शरीर पर नहीं लगाना चाहिए।
  5. मधुमेह के रोगियों को भी शहद का अधिक इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
  6. अधिक शहद के सेवन से यह पर कि आंत को हानि पंहुचा सकता है।
  7. अधिक शहद के स्वन से ब्लड शुगर का खतरा बढ जाता है।
  8. एक साथ अधिक शहद के सेवन से यह फूड प्वाइजनिंग का कारण बन सकता है।

Conclusion

यह थी Rcm Honey के बारे में कुछ ध्यान देने योग्य बातें हमें आशा है आपको हमारे द्वारा दी गई इस जानकारी से लाभ मिला  होगा तो इसे अपने मित्रो ओर सगे संबंधियों के साथ जरूर साझा करें और अपने घर परिवार में Rcm Honey का जरूर इस्तेमाल करें।